छत्तीसगढ के जगदलपुर वैद्यकीय महाविद्यालय में हजारों चूहों ने किया नाक में दम !

चूहों की समस्या शुरू होते ही उस पर अंकुश रखने के लिए कोई उपाययोजना त्वरित क्यों नहीं की गई ? इसके प्रति असंवेदनशील रहनेवाले उत्तरदायी लोगों से ही इसकी वसूली की जाए !

राज्यसभा में हंगामा मचानेवाले १९ सांसद एक सप्ताह के लिए निलंबित !

केवल निलंबन नहीं, अपितु उनसे अधिवेशन के लिए समय व्यर्थ करने के लिए दंड वसूलना चाहिए । इसके साथ ही उन्हे दिए जानेवाला वेतन एवं भत्ता रोक देना चाहिए !

जामताडा (झारखंड) जिले के १०० से अधिक उर्दू विद्यालयों में रविवार की जगह शुक्रवार को साप्ताहिक अवकाश दिया जाता है !

यदि ऐसा है, तो पूरे देश में जहां अधिकांश छात्र हिन्दू हैं, गुरुवार को अवकाश घोषित करें ! रविवार का साप्ताहिक अवकाश भारत में ईसाई अंग्रेज़ों द्वारा लाई गई परंपरा है !

बिहार में मद्य प्रतिबंधित होते हुए भी वह सहजता से उपलब्ध होती है ! – केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस का दावा

जिस राज्य में मद्य प्रतिबंधित होते हुए भी सहजता से उपलब्ध होती है और यह बात केंद्रीय मंत्री ही कहते हैं, तो प्रश्न उठता है कि राज्य सरकार आखिर क्या कर रही है ?

(कहते हैं) ‘यदि हमारे रास्ते में आए, तो हम नहीं छोडेंगे !’

चोरी ऊपर से सीनाजोरी – पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया अनेक  जिहादी आक्रमणों में सम्मिलित है ! ऐसी प्रवृत्तियों पर त्वरित कार्रवाई, समय की मांग है ! देशभक्तों को अपेक्षा है कि, केंद्र सरकार शीघ्रातिशीघ्र इस आतंकी संगठन पर प्रतिबंध लगाएगी !

हिन्दू भक्तों के विरोध करने के उपरांत भी, बेलूर (कर्नाटक) में मंदिर का रथ उत्सव कुरान के पाठ के साथ प्रारंभ किया गया !

क्या आपने कभी ऐसी परंपरा के बारे में सुना है कि, किसी मस्जिद या चर्च में हिन्दू वेद मंत्र से कार्यक्रम आरंभ किया गया हो ?

गुजरात में गत ४ वर्षों में ६,००० करोड रुपये का कोयला घोटाला !

जनता को लगता है, कि केंद्र सरकार इस घोटाले की निष्पक्ष जांच करे, सच्चाई लोगों के सामने लाए एवं इसमें संलिप्त लोगों के विरुद्ध कडी कार्रवाई करे !

अलवर (राजस्थान) के एक सरकारी पाठशाला में, साल भर ९ शिक्षकों और प्रधानाध्यापकद्वारा, ४ छात्राओं के साथ दुष्कर्म किया गया !

कांग्रेस राज्य में सरकारी पाठशाला की छात्राएं भी असुरक्षित ! सोनिया गांधी और प्रियंका वाड्रा इस विषय में बात क्यों नहीं करतीं ? ‘शिक्षक’ का नाम लज्जित करनेवाले इन सभी आरोपियों को सरकार दंड दे !

८ अगस्त को दिल्ली में देशभक्तों का भव्य आंदोलन !

इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए उच्चतम न्यायालय के देशभक्त और धर्मनिष्ठ अधिवक्ता अश्विनी उपाध्याय और देशभक्त वक्ता श्री. पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ ने पहल की है।