केरल में धर्मांध सोशल डेमोक्रैटिक पार्टी ऑफ इंडिया के पदाधिकारी के हत्या के प्रकरण में रा.स्व. संघ के २ स्वयंसेवी गिरफ्तार !

केरल में माकपा की सरकार होने से और धर्मांधों द्वारा हिन्दू संगठन के नेता की हत्या की जाने से इस प्रकरण की जांच करने में जानबूझकर ढिलाई बरती जा रही है, ऐसा किसी ने कहा, तो उसमें आश्चर्य कैसा ?

जो हिन्दू धर्म छोड चुके हैं, उनकी घर वापसी करेंगे ! – सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत

हिन्दू धर्म का परित्याग न करें, इसलिए, उपस्थित हिन्दुओं को शपथ दिलाई गई !

कानूनी प्रक्रिया के नाम पर फंसाए जाने की भावना से ही बाबरी ढांचा गिराया गया ! – रा.स्व. संघ के महासचिव अरुण कुमार

श्रीराममंदिर के आंदोलन के द्वारा हिन्दुओें को जागृत किया गया। इससे ‘हिन्दू कायर हैं और जाति, भाषा, समाज आदि विवादों के कारण वे कभी भी संगठित नहीं हो सकते’, इस समझ को तोडा गया।

४ निर्दोष मुसलमान आरोपियों को अभियुक्त बनाने और उन्हें प्रताडित करने के कारण, प्रत्येक को १ लाख रुपये की हानि भरपाई दी जाए !

ऐसे कितने हिन्दुओं को मानवाधिकार आयोग या संबंधित राज्य सरकारोंद्वारा नुकसान भरपाई दी गई है ? जबकि, कट्टरपंथियों को तुरंत नुकसान भरपाई दी जाती है ; क्या यह भेदभाव नहीं है ?

चीन की दीवार ही उसकी मूल सीमा है, तो शेष चीन उसका विस्तारवाद है ! – डॉ. इंद्रेश कुमार, प्रचारक, रा.स्व. संघ

डॉ. इंद्रेश कुमार ने आगे कहा कि, “आज भारत सभी प्रकार से सक्षम है । भारत की शक्ति, क्षमता तथा कूटनीति, चीन के विरुद्ध किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए सक्षम है । डोकलम में चीन ने इसका अनुभव किया है ।”

केरल के संघ स्वयंसेवक के हत्याकांड में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का कार्यकर्ता बंदी !

पुलिस ने कुछ दिन पूर्व, यहां राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के स्वयंसेवक संजीत की हत्या के प्रकरण में, पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के एक कार्यकर्ता को बंदी बना लिया है ।

विगत ७४ वर्षाें में देश ने अपेक्षित विकास नहीं किया; क्योंकि उसके लिए अपनाया गया मार्ग उचित नहीं था ! – सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत

लोगों को केवल ‘जय श्रीराम’ नहीं बोलना चाहिए, अपितु प्रभु श्रीराम जैसा बनने का प्रयास भी करना चाहिए ।

(कहते हैं) ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता नक्सलियों जैसे काम करते हैं ! – छत्तीसगढ़ के कांग्रेस मुख्यमंत्री भूपेश बघेल !

संघ के स्वयंसेवक यदि नक्सलियों जैसे काम करनेवाले  होते, तो बघेल ऐसा कहने का साहस न करते !

हरियाणा में सरकारी कर्मचारी रा.स्व. संघ के कार्यक्रमो में भाग ले सकेंगे !

हरियाणा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार ने इतिहास में की गई अनेक त्रुटियों को बदलने का साहस दिखाया ! – सनातन संस्था के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री. चेतन राजहंस।

हिन्दू अपने बच्चों को धर्म के विषय में अभिमान रखने की शिक्षा नहीं देते हैं ! – संघ प्रमुख डॉ. मोहन भागवत

हिन्दुओं को धर्म शिक्षा देने का दायित्व वास्तव में केंद्र सरकार का है । इसके लिए सरकार को  प्रयास करना आवश्यक है; लेकिन वर्तमान स्थिति ‘निधर्मी’ होने से यह संभव नहीं । हिन्दू राष्ट्र में हिन्दुओं को धर्म की शिक्षा देने की व्यवस्था सरकारी स्तर से ही की जाएगी । इसके लिए हिन्दू राष्ट्र के लिए कटिबद्ध हो जाइये !