चीन से ऋण (उधार) लेने से पूर्व विकासशील देशों को दो बार सोचना होगा ! – बांग्लादेश के अर्थमंत्री मुस्तफा कमाल

श्रीलंका के आर्थिक दिवालियापन के पश्चात अब जागृत हुआ बांग्लादेश !

बांग्लादेश में मंदिरों पर आक्रमण कर श्री कालीमाता तथा श्रीगणेश की प्रतिमाओं को किया ध्वस्त

यह बात पुनः एक बार स्पष्ट है कि मदरसा के छात्र सीखते क्या हैं ? तथा वे करते क्या हैं ? इस घटना के विषय में भारत सरकार बांग्लादेश को कब उत्तर पूछेगी ?

बांग्लादेश में हिन्दुओं की जनसंख्या के प्रतिशत में न्यूनता (कमी) !

भारत से पृथक (अलग) हुए मुसलमानबहुल देश में हिन्दू तथा सिक्खों की संख्या प्रतिदिन घट रही है । इस संदर्भ में पिछले ७५ वर्षों में भारत सरकार ने एक बार भी आवाज नहीं उठाई, न ही हिन्दू संगठनों ने इसके लिए सरकार पर दबाव डाला । भारत के हिन्दुओं के लिए यह लज्जास्पद है !

बांगलादेशी हिन्दुओं पर आक्रमणों के विराध में हिन्दुओं का शांतिपूर्ण पद्धति से देशव्यापी प्रदर्शन !

भारतीय मुसलमानों पर कथित रुप से अत्याचार होने पर धर्मांध मुसलमान देशभर में हिंसात्मक कार्यवाही करते हैं, तो बांगलादेश में हिन्दुओं पर नियमित आक्रमण होने पर भी वहां के हिन्दू शांतिपूर्ण आंदोलन करते हैं, यह ध्यान में लें !

बांग्लादेश में कट्टरपंथियों द्वारा हिन्दुओं की दुकानों पर पुनः आक्रमण; हिन्दू दुकानदार पर चलाई गोली !

मैमनसिंग जिले के भालुका उप-जिले में मुसलमान कट्टरपंथियों ने जातीयवादी घोषणा देते हुए हिन्दू की दुकानों पर आक्रमण किया । इस अवसर पर एक हिन्दू दुकानदार पर गोली भी चलाई ।

बांग्लादेश और भारत के हिन्दुओं पर होनेवाले अत्याचार जागतिक पटल पर प्रस्तुत किए !

जो भारत के हिन्दू नेताओं को करना अपेक्षित है, वे सात समुद्र के पार रहनेवाला एक इसाई सांसद करता है, यह हिन्दुओं के लिए अत्यंत लज्जाजनक है ! हिन्दुओं के नेताओं की ऐसी निष्क्रियता क्या कभी हिन्दुओं पर होनेवाले अत्याचार रोक पाएगी ?

बांग्लादेश में धर्मांधों ने किया हिन्दू परिवार पर आक्रमण !

यदि भारत में मुसलमानों पर आक्रमण हों, तो उस समय इस्लामी देश एवं उनके संगठन तुरंत भारत को खरी-खोटी सुनाकर उत्तर पूछते हैं, भारत सरकार को यह ध्यान में रखना चाहिए !

बांग्लादेश में इस्लामी कट्टरपंथियों द्वारा हिन्दुओं का नरसंहार करने का आवाहन !

बांग्लादेश में ऐसा कुछ होने से पूर्व ही भारत सरकार को वहां स्थित शेख हसीना सरकार को जबाब उत्तर पूछना चाहिए ! यदि भारत सरकार निष्क्रिय रहती है और कोई आरोप लगाए कि बांग्लादेश में हिन्दुओं के नरसंहार के लिए एक प्रकार से भारत सरकार ही उत्तरदायी है, तो इसमें भूल कैसी ?