Cow Dung Power : जापान में गाय के गोबर से बनाए इंधन से रॉकेट का इंजन चलाया !

क्या गाय के गोबर और गोमूत्र को अपमानित करनेवाले अब तो उसका महत्त्व समझेंगे ?

१४ नवम्बर को मंदिरों में गौ पूजा करें ! – धर्मादाय विभाग, कर्नाटक

गौ पूजा करने का आदेश देने वाली कर्नाटक की कांग्रेस सरकार गौ हत्या न हो, इस ओर भी उतना ही ध्यान दे !

…तो हिन्दू युवतियां गाय को काटनेवालों के साथ भाग नहीं जातीं ! – श्रीमती मीनाक्षी शरण, संस्थापक, अयोध्या फाऊंडेशन, मुंबई

हमारे अभिभावकों ने अपने बच्चों को गाय को चारा देना सिखाया होता, तो हिन्दू युवतियां गाय को काटनेवालों के साथ भाग नहीं जातीं । हिन्दुओं ने अपने बच्चों को अपनी संस्कृति सिखाई होती, तो लव जिहाद की घटनाएं नहीं होतीं । ऐसा प्रतिपादन उन्होने किया

जलगांव में ३३ गोवंशों के पैर बांधकर अवैधरूप से वाहन से लेकर जा रहे तीन व्यक्तियों को बंदी बनाया गया !

पशुवैद्यकीय अधिकारियों के जांच करने के उपरांत पता चला कि घुटन के कारण सांस रूक जाने से ३ गौवशों की मृत्यु हो गई । पुलिस ने ट्रक जमा कर संदिग्ध व्यक्तियों के विरुद्ध अपराध प्रविष्ट किया है ।

दुधारू गाय, भैंस आदि प्राणियों को संगीत सुनाने पर दूध देने की क्षमता बढी !

‘जिस प्रकार मानव को संगीत अच्छा लगता है और संगीत सुनकर स्वयं को अच्छा लगता है, उसी प्रकार मधुर सुर अथवा संगीत प्राणियों को तनाव मुक्त रखता है’, ऐसा इस शोध से सामने आया है ।

लोकसभा चुनावों से पहले गोमाता को ‘राष्ट्रमाता’ घोषित करें ! – श्री १००८ महाशक्ति पीठाधीश्वर श्री शक्तिजी महाराज, श्री महाकाली माता शक्तिपीठ प्रतिष्ठान, अमरावती

जन्मदाता मां के उपरांत गाय हमारी माता है । हम गोमाता का दूध पीते हैं; परंतु उसकी रक्षा करने में हम कम पड रहे हैं । नांदेड में गोरक्षकों की हत्या की गई । गोरक्षकों को प्रशासन से सहयोग नहीं मिलता । गोमाता की रक्षा करने के लिए सभी हिन्दुओं को एकत्र आना चाहिए

प्रत्येक हिन्दू परिवार ने २ गायों का पालन किया, तो भारत में गोशालाओं की आवश्यकता नहीं पडेगी ! अधिवक्ता आलोक तिवारी, उपाध्यक्ष, जांबाज हिन्दुस्थानी सेवा समिति, उत्तर प्रदेश

सनातन संस्था एवं हिन्दू जनजागृति समिति हमारे लिए गुरु द्रोणाचार्य की भांति हैं ! परमपूज्य डॉ. आठवलेगुरुजी को देखने पर बहुत ऊर्जा मिलती है । वैसी ही ऊर्जा इस ‘वैश्विक हिन्दू राष्ट्र महोत्सव’में सम्मिलित होने पर मिलती है, जो अगले वर्षतक हमारे लिए पर्याप्त होती है ।

अखंड भारत के लिए गोहत्या रोकना आवश्यक ! – सतीश कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष, गोरक्षा दल

जब से देश में गोहत्या प्रारंभ हुई है, तब से अखंड भारत के टुकडे हुए हैं । गोमाता भूमाता का रूप है । जिस भूमि पर उसके टुकडे होंगे, उस भूमि के टुकडे होंगे ।

कर्नाटक में अभी भी गोहत्या बंदी कानून होने से विशेष पशु की बलि न दें !

कानून होते हुए भी धर्मांध गोहत्या करते रहते हैं | कर्नाटक में कांग्रेस सरकार आने से इस कानून का कितना पालन होगा, इस ओर गोरक्षकों को ध्यान देना आवश्यक है !

चंद्रपुर में जंगली सुअरों के प्रतिबंध के लिए भूमि में गाढे गए बम से जबडा फटने से गाय की मृत्यु !

पहले ही गोधन के अल्प होते हुए ऐसी घटनाएं न हों और गोधन की रक्षा हो, इसके लिए प्रशासन एवं जनता को सतर्क रहना आवश्यक !