हिन्दूबहुल भारत के आस्था का केंद्र गोमाता का वंशविच्छेद कर चलाया जा रहा गो-जिहाद !

गोवंश की तस्करी, यातायात, गोहत्याएं, सहस्रों अवैध पशुवधगृहों आदि सभी प्रकारों में धर्मांध ही अधिक होते हैं । कानून के होते हुए भी पुलिस उन पर स्वयं कार्यवाही नहीं करती, तो अधिकांश बार उनसे मार खाकर आती है ।

जनपदाधिकारियों द्वारा तमिलनाडु के ‘खाद्य उत्सव’ में गोमांसमिश्रित बिरियानी समाविष्ट न करने का आदेश !

गोमाता हिन्दुओं के लिए पूजनीय है । शासकीय ‘खाद्य उत्सव’ में गोमांसमिश्रित बिरियानी को समाविष्ट करना, अर्थात हिन्दुओं की धार्मिक भावनाएं आहत करना !

‘लुम्पी’ इस महामारी के कारण ३ सहस्र से अधिक गायों की मृत्यु !

पहले ही भारत में गायों की संख्या दिनोंदिन कम होते हुए महामारी से सहस्रों गायों की मृत्यु होना दुर्भाग्यपूर्ण ! केंद्र सरकार ने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए गायों की रक्षा के लिए तत्परता से कदम उठाने चाहिए !

छत्तीसगढ सरकार गोबर के उपरांत अब गोमूत्र क्रय करेगी !

‘गोधन न्याय योजना’ द्वारा क्रय किए गए गोबर का उपयोग खाद बनाने के लिए, जबकि गोमूत्र का उपयोग कीटकनाशक बनाने के लिए किया जाएगा ।

गोरक्षा के लिए बेरोजगारों को सौंपा जाएगा गायों की देखभाल करने का दायित्व !

उत्तराखंड के पुष्कर सिंह धामी शासन का अभिनंदन ! चूंकि गोमाता सर्वव्यापी महत्त्वपूर्ण है, इसलिए अन्य भाजपा शासित राज्यों को भी गायों की रक्षा हेतु शासकीय स्तर पर ऐसी योजना कार्यान्वित करना आवश्यक !

पाक में बकरीद के दिन क्रेन की सहायता से गाय को उठाकर उसे नीचे फेंककर मारने की कुप्रथा !

इस विषय में अंतरराष्ट्रीय एवं प्राणीप्रेमी संगठन चुप क्यों ? इस्लाम में बकरीद को गाय की हत्या करने की कोई प्रथा न होते हुए भी इस प्रकार से की जाने वाली हत्या क्या इस्लाम का अपमान नहीं है ?

‘हिन्दू राष्ट्र के लिए कार्य करनेवाले को ही मतदान करूंगा’, ऐसे लोकप्रतिनिधियों को दृढता से बताएं ! – राजीव शाह, अध्यक्ष, सायबर सिपाही (दक्षिण राज्य) भाग्यनगर, तेलंगाणा

देश में आतंकवाद, भ्रष्टाचार, लूटपाट आदि के बढते हुए भी पुलिस उसे छोडकर हिन्दू संगठनों की गतिविधियों की कडी निगरानी कर रही है । यह हिन्दुओं का दुर्भाग्य है । भोपाल में हिन्दू देवी-देवताओं के विषय में झूठा प्रसार कर हिन्दुओं का धर्मपरिवर्तन किया जा रहा है ।

‘किलों का रूपांतरण दर्गाह में न हो’; इसके लिए हिन्दुओं को संगठित होकर कार्य करना आवश्यक ! – मनोज खाडये, समन्वयक, पश्चिम महाराष्ट्र एवं गुजरात राज्य, हिन्दू जनजागृति समिति

गढ-किलों का महत्त्व केवल ऐतिहासिक नहीं है, अपितु वो हमारी संस्कृति के धरोहर हैं । उनसे हमें धर्म और राष्ट्र का कार्य करने की प्रेरणा मिलती है; परंतु पुरातत्व विभाग की उपेक्षा के कारण षड्यंत्र रचकर किलों का इस्लामीकरण किया जा रहा है ।

गोमूत्र छिडकने से भूतबाधा एवं वास्तुदोष दूर होते हैं ! – उत्तरप्रदेश के मंत्री धरमपाल सिंह

गाय से हमें दूध, दही, घी, गोबर और गोमूत्र, इस प्रकार ५ पदार्थ मिलते हैं । गाय के गोबर में श्रीलक्ष्मी, तो गोमूत्र में गंगामैया का वास है ।

असम की बांग्लादेश सीमा पर गोवंश की तस्करी करनेवालों द्वारा सीमा सुरक्षा बल के सैनिकों पर आक्रमण

गोवंश की तस्करी करनेवाले कल तक गोरक्षक और पुलिस पर आक्रमण करते थे, अब वे सैनिकों पर भी आक्रमण करने का साहस कर रहे हैं । यह देखते हुए ऐसे लोगों को फांसी का ही दंड देने का कानून बनाना आवश्यक है !