Telangana Medak Violence : मेडक (तेलंगाना) में गोतस्करी का विरोध करने पर मुसलमानों ने हिन्दुओं पर हमला किया !

(और इनकी सुनिए…) ‘गोतस्करी रोकने पर हिन्दू भक्तों ने शिकायत करने की बजाय मारपीट की !’ – पुलिस 

योगीबाबा मेरी रक्षा करें, मैं कभी भी गोतस्करी नहीं करूंगा ! – गोतस्कर मोहम्मद आलम

बदायूं (उत्तर प्रदेश) यहां के गोतस्कर मोहम्मद आलम की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से याचना 

ममदापुर (अहिल्‍यानगर) में धर्मांध गोतस्‍करियों द्वारा गोरक्षकों पर गोलीबारी !

राज्‍य में गोवंश हत्‍याबंदी कानून लागू होते हुए भी गोरक्षकों पर जानलेवा आक्रमण होना प्रशासन के लिए लज्‍जाजनक ! अपना जीवन संकट में डालकर गोरक्षा करनेवाले गोरक्षकों की सुरक्षा के लिए पुलिस कुछ करेगी क्‍या ?

गौशाला चलाने वाले महाराज पर बूचडखाना संचालक द्वारा प्राणघातक आक्रमण !

गौरक्षक महाराज पर आक्रमण होता है यह भारत है अथवा पाकिस्तान ? हिन्दुओं के यह लिए शर्मनाक है कि बहुसंख्यक हिन्दुओं के देश में उनका जीवन असुरक्षित है !

नूंह, हरियाणा में पुनः गो हत्या, गो-तस्कर हसन मोहम्मद गिरफ्तार

नूंह में प्रतिदिन रात्रि में बड़ी संख्या में गायों की हत्या कर उनका मांस बेचा जाता है, ऐसा आरोप हिन्दू संगठनों ने लगाया है । पिछले महीने नूंह में कुछ गो-तस्कर पकड़े गए थे ।

कुशीनगर (उत्तर प्रदेश) में गो-तस्कर गिरफ्तार

इनामुल के पास से पुलिस ने एक पिस्तौल, अनेक कारतूस और एक दोपहिया वाहन जप्त किया है । यह कार्यवाही करनेवाले महिला पुलिस दल का अतिरिक्त पुलिस महासंचालक ने अभिनंदन किया है ।

(और इनकी सुनिए…) ‘गोरक्षक मुसलमानों के साथ मारपीट करते हैं ! – भाकपा

अनेक राज्यों में गोहत्या बंदी होते हुए भी कोई भी राजनीतिक दल गोतस्करी करनेवालों पर कार्यवाही हो; इसके लिए न्यायालय नहीं जाता, इसे ध्यान में लें !

नूंह में पुलिस और गोतस्करों के बीच हुई मुठभेड में १ गोतस्कर घायल

पुलिस ने २१ गोवंशियों को छुडाया । गोरक्षक दल के सदस्यों ने पुलिस को गोतस्करी के विषय में जानकारी दी थी ।

हरियाणा में धर्मांधों की बढती हिन्दूविरोधी गतिविधियों का सामना करना श्रीकृष्ण की कृपा से हुआ संभव ! – कृष्ण गुर्जर, प्रांत सुरक्षा प्रमुख, बजरंग दल, हरियाणा

बजरंग दल ने धर्मांधों द्वारा निर्मित अवैध मस्जिदों एवं मजारों का अतिक्रमण हटाने का प्रयास किया । इसके साथ ही लव जिहाद, लैंड जिहाद, गोरक्षा, दलित निवारण आदि के लिए कार्य किया ।

जलगांव में ३३ गोवंशों के पैर बांधकर अवैधरूप से वाहन से लेकर जा रहे तीन व्यक्तियों को बंदी बनाया गया !

पशुवैद्यकीय अधिकारियों के जांच करने के उपरांत पता चला कि घुटन के कारण सांस रूक जाने से ३ गौवशों की मृत्यु हो गई । पुलिस ने ट्रक जमा कर संदिग्ध व्यक्तियों के विरुद्ध अपराध प्रविष्ट किया है ।