रत्नागिरी स्थित लोकमान्य टिळक के जन्मस्थान को ‘राष्ट्रीय स्मारक’ घोषित करें ! – हिन्दू जनजागृति समिति

देश की स्वतंत्रता के लिए अपना जीवन समर्पित करनेवाले क्रांतिकारियों को भूलना, यह सरकारी व्यवस्था की उनके प्रति कृतघ्नता दर्शाता है ! यह स्थिति उनके लिए लज्जाजनक है !