‘लव जिहाद’ के पीछे धार्मिक एवं अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र !

‘लव जिहाद’ अर्थात भारत की हिन्दू युवतियों को धर्मांतरित करने हेतु शत्रु राष्ट्रों द्वारा रचा गया अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र ! इसमें इस्लामी राष्ट्र बडी संख्या में सहभागी होकर यह षड्यंत्र रच रहे हैं ।

कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा हिन्दू व्यक्ति की गोली मारकर हत्या !

३३ वर्षों उपरांत भी कश्मीर में हिन्दू का असुरक्षित होना, यह अभी तक की सभी पार्टियों की सरकारों के लिए लज्जास्पद ! यह स्थिति बदलने के लिए हिन्दू राष्ट्र ही चाहिए !

भाग्यनगर में पकडे गए आतंकवादी करते थे मुसलमान युवकों की भर्ती !

‘आतंकवादियों का धर्म होता है’, यह अब संपूर्ण विश्व को स्वीकार हुआ है । इस कारण अब यह धार्मिक आतंकवाद नष्ट करने के लिए धर्मांधों की जिहादी मानसिकता नष्ट की जाय, इसका विचार कर उस पर कृति करना आवश्यक है !

केंद्र सरकार ने आतंकवादी संगठन ‘पीपुल्स एंटी-फासिस्ट फ्रंट’ पर प्रतिबंध लगा दिया है !

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त´ पीपुल्स एंटी-फासिस्ट फ्रंट´और उसके सहयोगी संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया है ।

वर्ष २०२२ में कश्मीर में १७२ आतंकवादी मारे गए !

यद्यपि कश्मीर में प्रतिवर्ष १०० से अधिक आतंकवादी मारे जाते हैं, तब भी पाकिस्तान में उनकी निर्मिति चलती ही रहती है । इसलिए कश्मीर में आतंकवाद नष्ट नहीं होता । अत: उसे जड से नष्ट करने हेतु पाकिस्तान को नष्ट करना आवश्यक है !

जम्मू-कश्मीर में लष्कर-ए-तोयबा के ३ आतंकवादी मारे गए

जम्मू कश्मीर में शोपिया जिले के मुंझ मार्ग परिसर में २० दिसंबर की भोर में आतंकवादी और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड में लष्कर-ए-तोयबा के ३ आतंकवादी मारे गए , जिनमें से २ की पहचान हो सकी है और तीसरे को पहचानने की प्रक्रिया चालू है ।

लष्कर-ए-तोयबा का आतंकवादी महम्मद आरिफ की फांसी का दंड स्थायी !

वर्ष २००० में देहली के लाल किले पर हुए आक्रमण का प्रकरण
सर्वोच्च न्यायालय ने पुन: एक बार पुनर्विचार याचिका अस्वीकार की ।

कश्मीर में ३ आतंकवादी मारे गए

ऐसे कितने ही आतंकवादी मारे जाएं, फिर भी उनका निर्माता पाकिस्तान और कश्मीर की जिहादी मानसिकता को जब तक कुचला नहीं जाता, तब तक वहां का आतंकवाद नष्ट नहीं होगा !

पाकिस्तान के आतंकवादी को ‘अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी’ घोषित करने के लिए चीन ने पुन: किया विरोध !

विश्व के सभी देशों को संगठित रूप से चीन की ऐसी कार्यवाहियों का विरोध करना आवश्यक है !

जम्मू की सीमा से सटे हुए गांव में पाक द्वारा ड्रोन से भेजा गया शस्त्र संग्रह नियंत्रण में !

पुलिस की राइफल लेकर भागनेवाले जिहादी आतंकवादी की मृत्यु !