रंगपुर (बांग्लादेश) में धर्मांधों ने हिन्दुओं के ६५ घरों में लगाई आग !

जमात-ए-इस्लामी द्वारा आक्रमण !

बांग्लादेश में हिन्दुओं पर हो रहे आक्रमणों पर तृणमूल कांग्रेस मूक ! – भाजपा का आरोप

हिन्दुओं को अपेक्षा है, कि केंद्र की भाजपा सरकार बांग्लादेश के हिन्दुओं की रक्षा के लिए प्रयास करेगी !

बांग्लादेश में धर्मांधों द्वारा श्री दुर्गादेवी पूजा मंडप पर आक्रमण कर वहां की विविध देवताओं की मूर्तियों की तोडफोड !

जानबूझकर स्वयं ही कुरआन का अनादर कर उसका ठिकरा हिन्दुओं पर फोडा !

ढाका (बांग्लादेश) में श्री दुर्गा देवी मंदिर में देवी की पूजा का धर्मांधों द्वारा विरोध !

बांग्लादेश में असुरक्षित हिन्दू एवं उनके धार्मिक त्योहार !
मूर्ति को दूसरे स्थान ले जाकर स्थापित किया !

बांग्लादेश में नवरात्रि के पृष्ठभूमि पर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा श्री दुर्गा देवी की मूर्तियों की तोडफोड !

यह स्पष्ट है कि बांग्लादेश में ऐसी घटनाएं धर्मांध ही करेंगे । प्रति वर्ष नवरात्रि में होने वाली ऐसी घटनाओं के साथ साथ संपूर्ण वर्ष कहीं न कहीं ऐसी घटनाएं होती रहती हैं, जो इस्लामी देश में हिन्दुओं की स्थिति दर्शाती है !

समुद्री सीमा विवाद को लेकर, बांग्लादेश ने भारत के विरुद्ध संयुक्त राष्ट्र में प्रविष्ट की याचिका !

अब छोटा बांग्लादेश भी भारत को आंखें दिखा रहा है । इससे स्पष्ट होता है, कि भारत को आक्रामक विदेश नीति अपनाना कितना आवश्यक है !

बांगलादेश में धर्मांध युवक द्वारा शिव मंदिर की शिवजी की २ मूर्तियों की तोड़फोड़ !

हिन्दुओं ने धर्मांध को पकडकर पुलिस हिरासत में दिया !

बांगलादेश के खुलना जिले में सैकडों धर्मांधों की ओर से हिन्दुओं के १० मंदिरों पर आक्रमण और देवताओं की मूर्तियों की तोडफोड की !

इस्लामी देश में अल्पसंख्यक हिन्दू और उनके श्रद्धास्थानों पर नियमित होने वाले आक्रमण भारत के हिन्दू और सभी पार्टी की सरकारों के लिए लज्जास्पद !

‘क्वॉड’ में सहभागी होने पर धमकी देने वाले चीन को बांगलादेश ने सुनाया !

‘बांगलादेश एक अलिप्त और संतुलित विदेश नीति रखने वाला देश है । हम स्वतंत्र और सार्वभौम देश होकर हमारी विदेश नीति हम स्वत: तय करते हैं’, ऐसे शब्दों में बांगलादेश के विदेश मंत्री डॉ.ए.के. अब्दुल मोमन ने चीन को सुनाया है । हिंद महासागर और प्रशांत महासागर क्षेत्र में परस्पर सहकार्य बढाने के लिए ‘क्वॉड’ समूह स्थापित किया गया है । 

(कहते हैं) ‘अमित शाह का बांग्लादेश से संबंधित ज्ञान सीमित एवं अत्यल्प है !’

बंगाल में चुनाव प्रचार के दौरान भारत के गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था, ‘बांग्लादेश में अन्न की न्यूनता के कारण अनेक गरीब लोग भुखमरी से बचने के लिए भारत आते हैं ।’ उसपर बांग्लादेश के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमन ने तीव्र प्रतिक्रिया व्यक्त की है ।