विश्वयुद्ध, भूकंप आदि आपदाओं का प्रत्यक्ष सामना कैसे करें ?

भूकंप कब, कहां और कितनी क्षमता का होगा, इसका पूर्वानुमान लगाना संभव नहीं । इसलिए यदि हमने सदैव सतर्कता, समयसूचकता और धैर्य रखा, तो जन-धन की हानि टलेगी अथवा अल्प हो सकती है ।

हेती देश में आए भूकंप में ३०४ लोगों की मृत्यु

साथ ही १ सहस्र ८०० लोग घायल हो गए हैं । भूकंप के कारण ८६० घर पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गए हैं, ७०० घरों की हानि हो गई है ।

हिंद महासागर के बढते तापमान के कारण भारत में बाढ की स्थिति निर्माण हाेने की संभावना ! – संयुक्त राष्ट्र का प्रतिवेदन

विज्ञानवादी कब स्वीकार करेंगे कि विज्ञान द्वारा की गई कथित प्रगति ने पृथ्वी के वायुमंडल में विनाशकारी परिवर्तन किए हैं?

चिपळुण (जनपद-रत्नागिरी) में बाढ पीडितों के लिए हिन्दू जनजागृति समिति, सनातन संस्था एवं स्थानीय संस्था-संगठनों की ओर से ‘सहायता अभियान’ !

अब तक २ सहस्र ३०२ नागरिकों को खाद्यान्न वितरित किया जा चुका है, जिसमें तेल, चावल, आटा, मसाले, प्याज, आलू, मोमबत्ती, दियासलाई आदि सम्मिलित हैं ।

देखिए Videos : चीन में गत १ सहस्र वर्षों में से सर्वाधिक वर्षा : लाखों लोग बेघर !

बीजिंग – यहां के हेनान प्रांत में मौसम विभाग ने गत १ सहस्र वर्षों में से सर्वाधिक वर्षा की प्रविष्टि की है ।