‘प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया’ के पत्रकार का वीजा बढाना चीन ने किया अस्वीकार !

उन्हें पहले यह बताना चाहिए कि भारत ने चीनी पत्रकारों के साथ किस प्रकार का अयोग्य वर्तन किया । यदि भारत में रहने वाले चीनी नागरिक जानबूझ कर भारतीय नियमों का उल्लंघन करते हैं तो भारत उन्हें क्यों सहन करे ?

१३ वीं शताब्दी में चीन की एक मस्जिद का नया निर्माण गिराने जाने को लेकर स्थानीय मुसलमानों का विरोध

चीन के यूनान प्रांत के नागू क्षेत्र में नाजीयिंग मस्जिद के गुंबद गिराने को स्थानीय मुसलमानों ने विरोध किया है । गत सप्ताह चीन की पुलिस ने मस्जिद में घुसने का प्रयास किया था । तब स्थानीय मुसलमानों ने उसका विरोध किया ।

(इनकी सुने…) ‘हम विवादास्पद क्षेत्र में बैठक लेने के विरुद्ध !’

श्रीनगर में २२ से २४ की कालावधि में ‘जी २०’ के पर्यटन कार्य समिति की तीसरी बैठक आयोजित की गई है । चीन ने इस बैठक में सम्मिलित न होने का निर्णय लिया है ।

हिन्द महासागर में चीन के मछुआरों की नौका उलटने से ३९ लोग लापता !

उसमें चीन के १७, इंडोनेशिया के १७ तथा ५ फिलिपींस के नागरिक हैं । इन लोगों को ढूंढा जा रहा है । 

चीन में अमेरिका के नागरिक को गुप्तचरी के प्रकरण में आजीवन कारावास

चीन ने अमेरिका के ७८ वर्षीय नागरिक को आजीवन कारावास का दंड सुनाया है । अमेरिका तथा हांगकांग की नागरिकतावाले जॉन शिंग-वान लेयुंग को चीन के सुजोऊ नगर से १५ अप्रैल २०२१ को बंदी बनाया गया था ।

चीन की ओर से कैलाश मानसरोवर यात्रा का शुल्क दुगुना !

यह चीन का हिन्दूद्वेष है, अतः सरकार को तत्काल इसका निषेध कर बढे हुए शुल्क को निरस्त करने के लिए चीन पर दबाव डालना चाहिए !

मदिरा की आदत छुडाने के लिए व्यक्ति के दिमाग में लगाई गई ‘चिप’ !

मूलत: मनुष्य व्यसनी न बने, इस हेतु विज्ञान के पास कोई उपाय नहीं है ! यह क्षमता अध्यात्म में है । इस हेतु मनुष्य को साधना करना आवश्यक है !

चीन में नौकरी और मनशांति हेतु मंदिरों में जाने वाले युवकों की संख्या में वृद्धि !

‘धर्म अफीम की गोली है’, ऐसा कहने वाले साम्यवादियों के गढ चीन में युवकों को मनशांति हेतु मंदिर में जाना पडता है, यह बुद्धिप्रमाणवादियो के मुख पर तमाचा !

हम युद्ध के लिए यूक्रेन के विरुद्ध रूस को हथियार नहीं देंगे ! – चीन

चीन के विदेश मंत्री ने निवेदन में कहा कि रूस को भेजी जाने वाली उन वस्तुओं पर भी प्रतिबंध लगाया जाएगा, जिनका प्रयोग नागरिक तथा सैन्य दोनों उद्देश्यों के लिए करना संभव होगा । चीन को शीघ्रातिशीघ्र युद्ध समाप्त करना है ।