इस्लामवादी विचारधारा और उससे होने वाली हिंसा सुरक्षा के लिए प्रमुख खतरा ! – ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ब्लेअर

टोनी ब्लेअर को जो लगता है वह विश्व के अन्य नेताओं को लगता है क्या, या वे अभी भी धर्मनिरपेक्षता की गोद में सो रहे हैं ?

इस्लाम धर्म संगीत, नृत्य, लोकतंत्र, महिला अधिकार आदि का विरोध करता है ! – बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन

क्या भारत में धर्मनिरपेक्षतावादी, आधुनिकतावादी , इस्लामवादी विद्वान आदि क्या इस विषय में बात करेंगे ? क्या वे तालिबान का विरोध करेंगे ?

‘इस्लाम’ विदेशी आक्रांताओं के साथ भारत में आया’, यह इतिहास है वैसा बताना आवयक ! – मोहन भागवत, संघ प्रमुख, रा.स्व. संघ 

मुसलमान समाज के समझदार और अच्छे विचारों के नेताओं को आततायी वक्तव्यों का विरोध करना चाहिए । उन्हें यह काम लंबे समय तक और प्रयास पूर्वक करना होगा ।

मुसलमान ने यदि इस्लाम पर टिप्पणी की, तो उसे ‘धर्मनिरपेक्षतावादी’ के स्थान पर ‘हिन्दुत्वनिष्ठ’ कहा जाएगा ! – बांगलादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन

आप ‘सुधारक’ या इस्लामी समाज को ‘धर्मनिरपेक्ष’ करने का प्रयास करने वाले ‘धर्मनिरपेक्षावादी’ हैं’, ऐसा वे कभी नहीं कहेंगे, ऐसा ट्वीट कर बांगलादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने मुसलमानों की मानसिकता पर प्रकाश डालने का प्रयास किया है ।

(कहते हैं) ‘काश्मीर को इस्लाम के शत्रु से मुक्त करें !’ – अल कायदा का तालिबान को आवाहन

आतंकवादियों का और उनके संगठनों का धर्म होता है और इस कारण ही वे इस्लाम के लिए एकत्रित आते हैं, यह इस आवाहन से सिद्ध होता है । ऐसे आतंकवादियों को रोकने के लिए हिन्दू राष्ट्र की स्थापना अपरिहार्य !

मुसलमानों द्वारा मुसलमानों की हत्या किए जाने पर अधिकतर मुसलमान चुप बैठते हैं; परंतु अन्य धर्मियों के मारने पर वे चिढते हैं ! – बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन

इस विषय में भारत के कथित धर्मनिरपेक्षतावादियों और बुद्धिजीवियों को क्या कहना है ?

‘गजवा-ए-हिन्द’ की दिशा में मार्गक्रमण?

अफगानिस्तान में हो रही गतिविधियां ‘गजवा-ए-हिन्द’ की संभावना की ओर संकेत कर रही हैं । यदि ऐसा नहीं होने देना है, तो भारत के हिन्दुओं को संगठित होकर हिन्दू राष्ट्र की स्थापना करना अपरिहार्य है, यह ध्यान में रखें !

भारत में हिन्दुओं के धर्मांतरण हेतु सक्रिय गिरोह के २ धर्मांध गिरफ्तार !

इन दोनों आरोपियों को धर्मांतरण का कार्य करने हेतु हवाला के माध्यम से ६० करोड रुपए मिले थे, साथ ही उन्होंने ५ राज्यों में १०३ मस्जिदों का भी निर्माण किया है, यह जांच से उजागर हुआ है ।

केरल के एक मुसलमान निर्देशक द्वारा बनाए जाने वाले चलचित्र, ‘येशू : नॉट फ्रॉम द बाइबल’ के विरोध में ईसाई एक लघु चलचित्र, ‘मोहम्मद : द पॉक्सो क्रिमिनल’ बनाएंगे !

केरल चित्रपट जगत, इस्लामी कट्टरपंथियों द्वारा नियंत्रित है, यह आरोप भूतपूर्व ईसाई सांसद ने लगाया !

तालिबानियों को अफगानिस्तान में शरीया कानून लागू करना चाहिए !

ब्रिटेन के इस्लामी उपदेशकर्ता अंजेम चौधरी का तालिबानियों को परामर्श !