अक्षरधाम मंदिर के समीप जब्त किया ड्रोन : बांग्लादेशी महिला की जांच !

भारत में कार्यवाही होने का तनिक भी डर न होने के कारण ही बांग्लादेशी घूसखोरों का अब ड्रोन द्वारा अप्रत्यक्ष रूप से जासूसी करने का साहस हो गया है ! यह पुलिस के लिए लज्जास्पद !

लव जिहाद का उपयोग कर भारत में ‘मिनी पाकिस्तान’ निर्माण हो रहा है ! – सौ. भक्ती डाफळे, समन्वयक, हिन्दू जनजागृति समिति, सातारा

छत्तीसगड के आदिवासी क्षेत्रों में बांगलादेश से आए मुसलमान हिन्दू आदिवासी युवतियों से विवाह कर घरजवाईं बन रहे हैं ।इसके द्वारा आदिवासियों की भूमि हडपने का षड्यंत्र है । इस प्रकार छत्तीसगड में एक पूर्ण गांव मुसलमानबहुल हो गया है । लव जिहाद का उपयोग कर इस पद्धति द्वारा भारत में ‘मिनी पाकिस्तान’ निर्माण हो रहा है ।

बंगाल में बडी संख्या में हिन्दुओं का धर्मांतरण ! – राष्ट्रीय अन्य पिछडा वर्ग आयोग

जब बंगाल में हिन्दू बहुसंख्यक हैं तो सूची में मुस्लिम जातियां अधिक क्यों हैं ? कहां गए वे लोग जो कहते हैं कि ‘हिन्दुओं को छोडकर अन्य धर्मों में कोई जाति नहीं है’ ?

कर्णावती से तीन बांग्लादेशी युवकों को बंदी बनाया गया

जगन्नाथ रथ यात्रा में आक्रमण करने का षड्यंत्र था क्या ? इसकी जांच की जाएगी !

असम में ६०० मदरसे बंद किए एवं अन्य सभी बंद करने का मानस !

यदि असम के मुख्य मंत्री ऐसा कर सकते हैं, तो अन्य राज्यों के मुख्य मंत्री क्यों नहीं  ?

‘हिन्दुओं का धर्मांतरण कहां हो रहा है ?’

लव जिहाद द्वारा हिन्दू लडकियों का कौन धर्मांतरण कर रहा है, यह ओवैसी को ज्ञात नहीं है क्या ?

धर्म परिवर्तन और बांगलादेशी घुसपैठ के कारण देश में जनसंख्या असुंतलन ! – सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबळे

धर्म परिवर्तन विरोधी कानून सख्त करने की मांग

रोहिंग्या तथा बांग्लादेशी घुसपैठिये मुसलमानों को ‘पाप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया’ आधार कार्ड बनाकर दे रहा है !

राष्ट्रघाती पाप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर केंद्र सरकार कब प्रतिबंध लगाएगी ?, हिन्दुओं की ओर से निरंतर ऐसा प्रश्न उपस्थित किया जा रहा है, सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए !

उत्तरप्रदेश और असम सीमा के निकट मुसलमानों की जनसंख्या में ३२ प्रतिशत बढोतरी !

बढोतरी में घुसपैठिये भी सम्मिलित!

सीमा सुरक्षा दल का क्षेत्र १०० कि.मी. तक विस्तारित करने की मांग !

नक्सलियों को धन एवं अस्त्र-शस्त्रों की आपूर्ति करने वाली बांग्लादेशी घुसपैठिया महिला, देहली में बंदी बनाई गई  !

यह लज्जाजनक बात है कि, बांग्लादेशी घुसपैठिए यहां अवैध रूप से रहते हैं तथा भारतीय प्रशासन, पुलिस एवं सुरक्षा बलों को उसका अता-पता भी नहीं होता है !