कोरोना के लिए उपयुक्त औषधियां

यदि ऑक्सीजन की मात्रा कम हो तो, आरंभ में कार्बोवेज २०० की २ बूंदें हर २ घंटे में और बाद में २ बूंदें दिन में ३ बार लें । आरंभ में ऐस्पिडोस्पर्मा Q की १० बूंदें पाव कप पानी में हर २ घंटे में और बाद में दिन में १० बूंदें ३ बार लें । ये दोनों औषधियां लें ।

वैश्विक महामारी फैलानेवाले ‘कोरोना विषाणु’ के नया प्रकार ‘ओमिक्रॉन विषाणु’ से आध्यात्मिक स्तर पर लडने के लिए यह जप करें !

‘ओमिक्रॉन विषाणु’ का विश्वभर का प्रभाव नियंत्रित हों और उसका प्रसार रुक जाएं, एवं यह नामजप करने के निमित्त से अनेकों को इस आपातकाल में साधना करने की गंभीरता ध्यान में आए और उनके द्वारा साधना आरंभ हो, यही श्रीगुरुचरणों में प्रार्थना !

युरोप में ५० प्रतिशत नागरिक ओमिक्रॉन से बाधित होंगे ! – विश्व स्वास्थ्य संगठन

पिछले वर्ष कोरोना की दूसरी लहर में भारत में कोरोना गति से फैलने से पश्चिमी मीडिया ने किसी भी प्रकार से भारत की खिंचाई की थी । अब युरोप के मृतप्राय स्थिति में आने से वहां की मीडिया मौन धारण किए हुए है । यह उनका दोहरापना है, यह ध्यान दें !

देश में विगत २४ घंटे में १ लाख ५९ सहस्र नागरिक कोरोना से संक्रमित !

जनता द्वारा कोरोना के संबंध में निवारक नियमों का पालन न करने के कारण रोगियों की संख्या बढ रही है, यह ध्यान रखते हुए जनता नियमों का पालन करें  ! भारतीयों के लिए लज्जाजनक बात है कि, अनुशासन-हीन लोग कोरोना को आमंत्रित कर रहे हैं  !

भारत में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना अत्यंत अल्प ! – डॉ रवि गोडसे, अमेरिका 

“भारत में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना अत्यंत अल्प है ; क्योंकि, यद्यपि कोरोना अथवा ‘ओमिक्रोन’ से संक्रमित लोगों की संख्या बढी है, चिकित्सालय में भर्ती होने वालों की संख्या अत्यंत अल्प है । ऐसी आश्वस्त करने वाली जानकारी अमेरिका के प्रसिद्ध आधुनिक वैद्य (डॉक्टर) रवि गोडसे ने दी है ।

कोरोना पीडितों की बढती संख्या की पृष्ठभूमि पर नियंत्रण कक्ष स्थापित करने के विषय में केंद्र सरकार की राज्य सरकारों को सलाह

श में कोरोना पीडित मरीजोें की संख्या पुन: बढने लगी है । मरीजों की बढती संख्या की पृष्ठभूमि पर कोरोना फैलने को ढूंढने के लिए केंद्र सरकार ने १ जनवरी के दिन राज्यों के लिए एक दिशा निर्देश जारी किया है ।

‘ओमिक्रॉन’ के बढते प्रभाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव आगे करने पर विचार करना चाहिए !

यदि चुनाव के कारण और रैलियोें के कारण कोरोना के संक्रमण में बढोतरी होती होगी, तो यह चुनाव आगे टालना आवश्यक ही है ! यह क्यों बताना पड रहा है ?

२०२२ तक समाप्त हो जाएगी कोरोना महामारी ! – विश्व स्वास्थ्य संगठन का दावा

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यू.एच.ओ.) के वैज्ञानिकों ने कहा है, कि वर्ष २०२२  तक कोरोना महामारी समाप्त हो जाएगी । इस संगठन के १०० वैज्ञानिकों के एक प्रतिवेदन में यह दावा किया गया है । इस बात की जानकारी एसोसिएशन के महानिदेशक ने ट्वीट करके दी है ।

ब्रिटेन : एस्ट्रेजेनेका का टीका ओमिक्रॉन पर प्रभावहीन !

विशेषज्ञोंद्वारा बताया जा रहा है कि, एस्ट्रेजेनिका की मात्रा ओमिक्रॉन के विरोध में ७६ प्रतिशत ही लाभदायक सिद्ध हो रही है। भारत में यही एस्ट्रोजेनेका का टीका, ‘कोविशिल्ड’ नाम से दिया जाता है !

अमेरिका में बूस्टर डोज लेने के बाद भी १४ लोगों को ‘ओमिक्रॉन’ का संक्रमण !

वॉशिंगटन (अमेरिका) – अमेरिका में कोरोना प्रतिबंधात्मक वैक्सीन के दोनो डोज तथा बूस्टर डोज लेने के बाद भी कुछ लोगों को कोरोना के नए रुप ‘ओमिक्रॉन’ का संक्रमण हुआ है ! अमेरिका के ‘सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन’ ने कहा है कि, अभी तक अमेरिका में ओमिक्रॉन के ४३ मरीज मिले हैं। उनमें से … Read more